मुंबई की देवांशी शाह ने अपने प्यारे कुत्ते ‘हेज़ल’ को खोने के बाद ‘पेट कनेक्ट’ शुरू किया, यहाँ कुत्तों के लिए आवश्यक सभी सुविधाएँ उपलब्ध हैं। | मुंबई की देवांशी शाह ने अपने प्यारे डॉगी ‘हेजल’ को चुनने के बाद की ‘पेट कनेक्ट’ की शुरुआत, यहां डॉग्स के लिए जरूरी सारी सुविधाएं उपलब्ध हैं।


  • हिंदी समाचार
  • महिलाओं
  • जीवन शैली
  • मुंबई के देवांशी शाह ने अपने प्यारे प्यारे कुत्ते ‘हेज़ल’ को खोने के बाद ‘पेट कनेक्ट’ शुरू किया, यहाँ कुत्तों के लिए सभी आवश्यक सुविधाएँ उपलब्ध हैं।

7 दिन पहले

  • कॉपी लिस्ट
66 1601985854 मुंबई की देवांशी शाह ने अपने प्यारे कुत्ते 'हेज़ल' को खोने के बाद 'पेट कनेक्ट' शुरू किया, यहाँ कुत्तों के लिए आवश्यक सभी सुविधाएँ उपलब्ध हैं।  |  मुंबई की देवांशी शाह ने अपने प्यारे डॉगी 'हेजल' को चुनने के बाद की 'पेट कनेक्ट' की शुरुआत, यहां डॉग्स के लिए जरूरी सारी सुविधाएं उपलब्ध हैं।
  • देवांशी का पूरा दिन हेजल के साथ रहनाता। हेजल के साथ देवांशी की कई शब्दावली जुड़ी हुई हैं
  • अपने इस सूनेपन से उबरने के लिए उसने एक ऑफलाइन कम्युनिटी की शुरुआत की जिसे ‘पेट कनेक्ट’ नाम दिया

अगर आपके घर में कोई पालतू जानवर है और आप इनसे प्यार करते हैं तो आप ये भी जानते होंगे कि इनकी देखभाल करना आसान नहीं है। फिर भी कई लोग ऐसे हैं जो इन पेटों को अपने बच्चों की तरह प्यार करते हैं।

उनके साथ रहते हुए वो कब भी आती है जब ये पेट भी इंसानों की तरह इस दुनिया से चले जाते हैं। ऐसे में उन लोगों का दुखी होना लाजिमी है जिसने अपना हर दिन उन्हें अपनापन देने में बिताया हो। अपने पालतू डॉगी को ऐसा ही दुलार मुंबई की देवांशी शाह ने भी दिया है।

dd3 1601985381 मुंबई की देवांशी शाह ने अपने प्यारे कुत्ते 'हेज़ल' को खोने के बाद 'पेट कनेक्ट' शुरू किया, यहाँ कुत्तों के लिए आवश्यक सभी सुविधाएँ उपलब्ध हैं।  |  मुंबई की देवांशी शाह ने अपने प्यारे डॉगी 'हेजल' को चुनने के बाद की 'पेट कनेक्ट' की शुरुआत, यहां डॉग्स के लिए जरूरी सारी सुविधाएं उपलब्ध हैं।

पिछले दिनो सोशल मीडिया पर देवांशी की कहानी वायरल हुई। देवांशी के पेट डॉग का नाम हेजल था। देवांशी उसे याद करते हुए उस दिन का जिक्र करती है जब उसके भाई ने देवांशी को उसकी 20 सालगिरह पर इस डॉग को को गिफ्ट किया था।

उसका वजन 600 ग्राम था और वह देवांशी की हथेली पर ही आ जाता था। देवांशी उसके साथ वॉक पर जाती है। वे ब्रेक भी हेजल के साथ बैठकर एक ही टेबल पर करती थीं। देवांशी का पूरा दिन हेजल के साथ रहनाता। हेजल के साथ देवांशी की कई शब्दावली जुड़ी हुई हैं।

dd9 1601985292 मुंबई की देवांशी शाह ने अपने प्यारे कुत्ते 'हेज़ल' को खोने के बाद 'पेट कनेक्ट' शुरू किया, यहाँ कुत्तों के लिए आवश्यक सभी सुविधाएँ उपलब्ध हैं।  |  मुंबई की देवांशी शाह ने अपने प्यारे डॉगी 'हेजल' को चुनने के बाद की 'पेट कनेक्ट' की शुरुआत, यहां डॉग्स के लिए जरूरी सारी सुविधाएं उपलब्ध हैं।

उसके बाद वो जब भी आया जब हेजल बीमार रहने लगा। देवांशी ने उसका इलाज भी करवाया लेकिन जल्दी ही वे इस दुनिया से चले गए। हेजल के न रहने से देवांशी की जिंदगी सूनी हो गई। अपने इस सूनेपन से उबरने के लिए उसने एक ऑफलाइन कम्युनिटी की शुरुआत की जिसे ‘पेट कनेक्ट’ नाम दिया। ये कम्युनिटी डॉग पैरेंट्स को वो सारी सुविधाएं उपलब्ध कराती है जो उनके डॉगी की देखभाल में मदद करता है।

1111 1601985921 मुंबई की देवांशी शाह ने अपने प्यारे कुत्ते 'हेज़ल' को खोने के बाद 'पेट कनेक्ट' शुरू किया, यहाँ कुत्तों के लिए आवश्यक सभी सुविधाएँ उपलब्ध हैं।  |  मुंबई की देवांशी शाह ने अपने प्यारे डॉगी 'हेजल' को चुनने के बाद की 'पेट कनेक्ट' की शुरुआत, यहां डॉग्स के लिए जरूरी सारी सुविधाएं उपलब्ध हैं।

यहां तक ​​कि महावीर के दौरान भी देवांशी ने अपनी सेवाओं को 24 घंटे जारी रखा ताकि पेट को किसी तरह की असुविधा न हो। सोशल मीडिया पर देवांशी की इस दिल छू लेने वाली कहानी को लाइक किया गया। किसी ने इसे ‘अमेजिंग’ बताया तो कोई हेजल को देवांशी के लिए ‘इंस्पिरेशन’ बता रहा है।



https://www.bhaskar.com/ladies/way of life/information/devanshi-shah-of-mumbai-launches-pet-connect-after-losing-her-beloved-doggie-hazel-here-all-the-facilities-needed-for-dogs-are-available-127785887.html

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 × 4 =