बार्बी गुड़िया के खिलाफ नस्लवाद और रंगभेद, कैसे लोग काले होने के लिए प्रतिक्रिया बार्बी डॉल बनाने वाली कंपनी ‘मेटल ’ने जातिवाद और रंगभेद के खिलाफ लॉन्च की बार्बी डॉल के बारे में बताया, काले होने पर लोगों ने बताया कि कैसे होते हैं।


39 मिनट पहले

  • कॉपी लिस्ट
doll 1602565346 बार्बी गुड़िया के खिलाफ नस्लवाद और रंगभेद, कैसे लोग काले होने के लिए प्रतिक्रिया  बार्बी डॉल बनाने वाली कंपनी 'मेटल ’ने जातिवाद और रंगभेद के खिलाफ लॉन्च की बार्बी डॉल के बारे में बताया, काले होने पर लोगों ने बताया कि कैसे होते हैं।
  • यह वीडियो वीडियो जातिवाद भेदभाव के खिलाफ है, जिसे सोशल मीडिया पर खूब सराहा जा रहा है
  • कई लोग मेटल कंपनी की बार्बी के माध्यम से ब्लैक लाइफ मैटर पर सपोर्ट से प्रभावित हुए हैं।

दुनिया में यूं तो रंगभेद के खिलाफ लगातार आवाजें उठती रही हैं। लेकिन इस बार विश्व प्रसिद्ध बार्बी डॉल ने भी इसका विरोध करते हुए वीडियो जारी किया है। बार्बी बनाने वाली कंपनी मेटल ने बताया कि बार्बी ड्रीम गैप प्रोजेक्ट के तहत जेंडर इक्वेलिटी और जातिवाद के खिलाफ आवाज उठाई है। ताजा वीडियो उसी का उदाहरण है।

इस चरण का मकसद बच्चों को सिर्फ यह समझाना है कि जातिवाद के खिलाफ कितना बड़ा जंग चल रहा है। आइकॉनिक प्लास्टिक डॉल बार्बी जिसकी यूरोपियन ब्यूटी स्टैंडर्ड को नॉर्मलाइज करने के लिए आलोचना होती रही है, उसने अब रंगभेद के खिलाफ आवाज उठाई है। इस प्लास्टिक मेटल डॉल ने सोशल मीडिया को हिलाकर रख दिया।

88 1602566180 बार्बी गुड़िया के खिलाफ नस्लवाद और रंगभेद, कैसे लोग काले होने के लिए प्रतिक्रिया  बार्बी डॉल बनाने वाली कंपनी 'मेटल ’ने जातिवाद और रंगभेद के खिलाफ लॉन्च की बार्बी डॉल के बारे में बताया, काले होने पर लोगों ने बताया कि कैसे होते हैं।

उन्होंने अपनी फ्रेंड निकी जो कि ब्लैक डॉल है, से बार्बी ब्लॉग सप्ताह में चर्चा की। यह वीडियो वीडियो जातिवाद भेदभाव के खिलाफ है, जिसे सोशल मीडिया पर खूब सराहा जा रहा है। वीडियो में निक्की बताती है – ” मुझे हर समय रंगभेद का सामना करना पड़ता है। निक्की और बार्बी में एक स्टिकर बेचने का कॉन्ट्रैक्ट हुआ, जिसके बारे में दोनों पिछले महीने के बीच पहुंचे थे ”।

जब निक्की बीच पर पहुंची तो सिक्योरिटी ने ब्लैक गर्ल होने से उसे तीन बार रोका। उन्हें लगा कि मैं कुछ गलत कर सकता हूं। मैं खुद को कैसे साबित करता हूं कि मैं कुछ गलत नहीं कर रहा हूं? उस ऑफिसर ने बार्बी को सपोर्ट किया। लेकिन मुझ पर भरोसा नहीं किया गया। ऐसे सभी पीपल ऑफ़ कलर अनुभव उन सभी को फेस करना पड़ते हैं जो गोरे नहीं हैं।

इस वीडियो को कई मिलियन व्यूज मिले जिसमें निक्की की बातें बार्बी शांति से सुनने की रही। वह जानती है कि उसे गोरा होने का श्रेय प्राप्त है। उसे विशेष अधिकार मिलते हैं। अब लोग भी बातें करने लगे हैं कि बार्बी सिर्फ छोटे बच्चों के लिए मेकअप और खूबसूरती का प्रतीक नहीं है, बल्कि अवेयरनेस फैलाने वाली भी बन गई है। कई लोग मेटल कंपनी की बार्बी के माध्यम से ब्लैक लाइफ मैटर पर सपोर्ट से प्रभावित हुए हैं।



https://www.bhaskar.com/ladies/way of life/information/barbie-dolls-against-racism-and-apartheid-how-people-react-to-being-black-127808885.html

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

eight − 4 =